मध्यप्रदेश सरप्लस बिजली राज्य में शामिल

वाणिज्य-उद्योग और रोजगार, खनिज साधन मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा है कि मध्यप्रदेश सरप्लस बिजली राज्य में शामिल हो गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की आवश्यकताओं के बाद हम अन्य राज्य को भी बिजली बेचने की स्थिति में है। श्री शुक्ल आज शहडोल में करीब 77 करोड़ की लागत से बनने वाले 220 के.व्ही. उप केन्द्र की आधारशिला रख रहे थे। श्री शुक्ल ने कहा कि प्रदेश में किसी समय 3000 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता था। आज 18000 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है। उन्होंने कहा कि विद्युत उत्पादन के साथ बिजली के ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन के क्षेत्र में भी अनेक कार्य हुए हैं। 
उन्होंने कहा कि गुजरात के बाद मध्यप्रदेश एक ऐसा प्रदेश है, जहाँ उपभोक्ता को 24 घंटे बिजली दी जा रही हैं। किसी समय यह कार्य असंभव लगता था, किन्तु राज्य सरकार की ऊँची सोच और संकल्प से यह संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि उप केन्द्र का बनना क्षेत्र के लोगों के लिए एक बड़ी सौगात है। प्रदेश सरकार का यह लक्ष्य है कि दूर-दराज के क्षेत्रों में रहने वाले अंतिम छोर के व्यक्ति को भी गुणवत्तापूर्ण बिजली मिले।

0 comments:

Post a comment